Home अपराध Breaking News: UKSSSC की भर्ती परीक्षा में धांधली की पुष्टि, छह गिरफ्तार

Breaking News: UKSSSC की भर्ती परीक्षा में धांधली की पुष्टि, छह गिरफ्तार

  • UKSSSC के डेटा आपरेटर ने 60 लाख रुपए में कराया था पेपर लीक
  • कोचिंग सेंटर का डायरेक्टर करता था बच्चों से टाइअप
  • रामनगर के रिर्जोट में बच्चों को दिया जाता था पेपर

देहरादून। उत्तराखंड पुलिस की एसटीएफ ने उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की 21 दिसंबर 2021 आयोजित स्नातक लेेेबल की परीक्षा में धांधली के आरोप में छह लोगों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों के कब्जे से 37 लाख रुपए बरामद किए गए हैं। DGP  ने इस  खुलासे के लिए एसटीएफ की पीठ थपथपाई है।

दो दिन पूर्व कुछ बेरोजगार संगठनों ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से मुलाकात कर उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की 21 दिसंबर 2021 को आयोजित स्नातक लेवल की परीक्षा में धांधली की शिकायत की थी। मुख्यमंत्री के निर्देश पर पुलिस ने इस मामले में रायपुर थाने में 420 का मुकदमा दर्ज कर मामला तत्काल एसटीएफ को स्थानांतरित कर दिया।
एसटीएफ ने इस मामले में छह लोगों मनोज जोशी, जयजीत दास, मनोज जोशी, कुलवीर सिंह चैहान, शूरवीर सिंह चैहान, गौरव नेगी को गिरफ्तार किया है। अभियुक्तों ने बताया कि मनोज जोशी पुत्र बालकिशन जोशी निवासी ग्राम मयोली, थाना दनिया, जिला अल्मोडा वर्ष 2014-2015 से वर्ष 2018 तक रायपुर स्थित अधीनस्थ चयन सेवा आयोग में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी(पीआरडी) के रूप में तैनात था। वर्ष 2018 में विभागीय शिकायत पर उक्त कर्मचारी को आयोग से हटा दिया गया। इससे पूर्व यह कर्मचारी 12 वर्ष तक लखनऊ सूर्या प्रिंटिंग प्रेस में कार्य कर चुका था।

दूसरा अभियुक्त जयजीत दास पुत्र विमल दास निवासी पण्डितवाड़ी, थाना कैण्ट, देहरादून आउटसोर्स कम्पनी आरएमएस टेक्नोसोल्यूसन इण्डिया प्रालि के माध्यम से कम्पयूटर प्रोग्रामर के रूप में वर्ष 2015 से कार्यरत् था तथा उक्त कम्पनी द्वारा अधीनस्थ चयन सेवा आयोग के गोपनीय कार्य किये जाते थे जिस कारण जयजीत दास की जान पहचान मनोज जोशी उपरोक्त से हुई थी।

आयोग के कार्यालय में मनोज जोशी पुत्र रमेश जोशी निवासी ग्राम पाटी, जिला चम्पावत का भी परीक्षाओं के कार्यक्रम के सम्बन्ध में जानकारी हेतु आना-जाना लगा रहता था जिस कारण उसकी पहचान मनोज जोशी पुत्र बालकृष्ण जोशी उपरोक्त से हो गई थी। चंपावत निवासी मनोज जोशी अभियुक्त कुलवीर सिंह चौहान पुत्र सुखवीर सिंह निवासी चांदपुर बिजनौर के करनपुर डालनवाला में संचालित डेल्टा डिफेन्स कोचिंग इन्स्टीटयूट से कोचिंग ले रहा था। कुलवीर ने ही मनोज जोशी को शूरवीर सिंह चौहान पुत्र अतर सिंह चौहान निवासी कालसी से मिलवाया। साथ ही किच्छा में प्राइवेट स्कूल में तैनात गौरव नेगी पुत्र गोपाल सिंह से जानपहचान हुई। इन्होंने मिलकर मनोज जोशी पुत्र बालकिशन जोशी के साथ मिलकर कम्पयूटर प्रोग्रामर जयजीत दास से मिलकर पेपर लीकर करवाने के एवज में 60 लाख रुपये दिए।

जयजीत दास UKSSSC में जाकर पेपरों की सेटिंग और अन्य तकनीकी कार्यों के कारण परीक्षा के प्रश्न एक्सट्रैक्ट कर लेता था। जिसे वह आरोपियों तक पहुंचाता था। टीम ने जयदीप की निशानदेही पर 37.10 लाख रूपये कैश बरामद किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

Breaking News: सौजन्या केंद्र में प्रतिनियुक्ति पर, बगोली को सूचना प्रौद्योगिकी और जावलकर को निर्वाचन की भी जिम्मेदारी

देहरादून। आईएएस सौजन्या के केंद्र में प्रतिनियुक्ति पर जाने के कारण शैलेश बगोली को सचिव सूचना प्रौद्योगिकी और दिलीप जावलकर को सचिव निर्वाचन की...

चकराता महाविद्यालय में नवागंतुक विद्यार्थियों का स्वागत, सुसज्जित कंप्यूटर लैब देखकर विद्यार्थी खुश

चकराता। श्री गुलाब सिंह राजकीय महाविद्यालय चकराता में स्नातक प्रथम सेमेस्टर में प्रवेशित विद्यार्थियों को नियम निर्देशों की जानकारी दी गई। बुधवार को प्राचार्य...

स्टेट एण्टी नारकोटिक्स टास्क फोर्स के थाना क्षेत्र में जाकर ड्रग्स पकड़ने पर संबंधित थाना प्रभारी पर होगी कार्रवाईः डीजीपी

डीजीपी करेंगे एण्टी नारकोटिक्स टास्क फोर्स (ANTF) की मासिक समीक्षा करेंगे देहरादून। मुख्यमंत्री ने वर्ष 2025 तक उत्तराखंड को नशामुक्त करने का लक्ष्य निर्धारित...

पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने सीएम धामी से की शिष्टाचार भेंट

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से मंगलवार को मुख्यमंत्री आवास में पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने शिष्टाचार भेंट की। उन्होंने प्रदेश हित से जुड़े...
- Advertisment -

Recent Comments

error: Content is protected !!