Home अपराध स्टेट एण्टी नारकोटिक्स टास्क फोर्स के थाना क्षेत्र में जाकर ड्रग्स पकड़ने...

स्टेट एण्टी नारकोटिक्स टास्क फोर्स के थाना क्षेत्र में जाकर ड्रग्स पकड़ने पर संबंधित थाना प्रभारी पर होगी कार्रवाईः डीजीपी

  • डीजीपी करेंगे एण्टी नारकोटिक्स टास्क फोर्स (ANTF) की मासिक समीक्षा करेंगे

देहरादून। मुख्यमंत्री ने वर्ष 2025 तक उत्तराखंड को नशामुक्त करने का लक्ष्य निर्धारित किया है, जिसके लिए एण्टी नारकोटिक्स टास्क फोर्स (ANTF) का राज्य, जिला और थाना स्तर पर गठन किया गया है। इसी परिपेक्ष में आज देहरादून जिले के वरिष्ठ अधिकारियों, थानाध्यक्षों, निरीक्षकों व उप निरीक्षकों को ड्रग्स के विरूद्ध प्रभावी कार्रवाई करने के लिए एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला में पुलिस एवं अभियोजन के अधिकारियों ने ड्रग्स के विरूद्ध कार्रवाई को और अधिक प्रभावी करने, enforcement और awareness की कार्रवाई, विधिक और कानूनी रूप से मजबूत विवेचना करने के सम्बन्ध में विस्तारपूर्वक बताया।

कार्याशाला को सम्बोधित करते हुए पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने कहा कि ड्रग्स हमारे समाज का सबसे बड़ा अभिशाप है। किसी परिवार का बच्चा यदि ड्रग्स के जाल में फंस जाता है तो उस परिवार की जीवन भर की कमाई, इज्जत सब बर्बाद हो जाती है। इससे अच्छे-अच्छे परिवार भी बर्बाद हो जाते हैं। ड्रग्स को समूल नाश करना हमारी जिम्मेदारी है। ड्रग्स पूरी दुनियां में टेरर फंडिंग का सबसे बड़ा स्रोत है। इस नाते हमारी ड्यूटी और अधिक बढ़ जाती है। ड्रग्स के प्रति जीरो टॉलरेंस नीति अपनायें। सामाजिक, सवैंधानिक जिम्मदारी के साथ-साथ थानाध्यक्ष होने के नाते आपकी काफी जिम्मेदारी है। राज्य स्तर, जनपद स्तर एवं थाना स्तर पर एंटी नारकोटिक टास्क फोर्स का गठन किया गया है। यदि राज्य स्तर की टास्क फोर्स किसी थाने क्षेत्र पर जाकर ड्रग्स पकडती है, तो सम्बन्धित थाना प्रभारी की भी जवाबदेही तय की जाएगी। Enforcement, Awareness एवं Rehab तीनों को साथ लेकर चलें। उन्होंने युवाओं से अपील करते हुए कहा कि युवा अपनी उर्जा को सकारात्मक क्रिया-कलापों खेल, पढाई, कल्चरल एक्टीविटी आदि में लगाएं और ड्रग्स से दूर रहें।
कार्यशाला में अपर पुलिस महानिदेशक, अपराध एवं कानून व्यवस्था वी मुरूगेशन ने अभियुक्तों के विरूद्ध न्यायालयों में प्रभावी पैरवी, साक्ष्य प्रस्तुत करने के दृष्टिगत विवेचनाओं में गुणवत्ता लाने के सम्बन्ध में बताया। गिरीश चन्द्र पंचैली संयुक्त निदेशक, विधि एवं मनोज कुमार शर्मा एडीजीसी, देहरादून ने न्यायालय में एनडीपीएस एक्ट से सम्बन्धित मामलों में विचारण के दौरान पाई जाने वाली कमियों तथा वर्तमान तक आने वाली कमियों की पूर्ति विवेचना के दौरान करने हेतु भी विस्तारपूर्वक समझाया।
कार्यशाला में डीआईजी गढ़वाल रेंज करन सिंह नगन्याल, एसएसपी देहरादून दलीप सिंह कुंवर, एसएसपी एसटीएफ अजय सिंह सहित जनपद के अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

वर्षवार मामले
वर्ष_________________ कुल मामले_________बरामद मादक पदार्थ की कीमत
2019_______________1558_______________11 करोड़
2020_______________1490_______________13 करोड़
2021_______________2165_______________26 करोड़
2022 के प्रथम 6 माह_____794________________12 करोड़

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -
- Advertisment -

Most Popular

फर्जी सूचना वायरल करने पर श्री महन्त इंदिरेश अस्पताल ने व्हाट्सएप ग्रुप एडमिन पर मानहानि का दावा ठोका

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक व कोतवाली पटेल नगर में तहरीर दी अस्पताल ने स्वास्थ्य मंत्री, सचिव स्वास्थ्य व सीएमओ को पत्र भेजकर पोस्टमार्टम की...

Breaking News: जस्टिस फाॅर अंकिताः उग्र भीड़ ने बदरीनाथ हाईवे पर लगाया जाम, देखें EXCLUSIVE वीडियो और PHOTO

अंकिता भंडारी के परिजन फाइनल पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने के बाद ही बेटी के अंतिम संस्कार करने पर अड़े  पोस्टमार्टम रिपोर्ट सार्वजनिक करने और...

Breaking News: अंकिता के परिजनों ने कहा- पोस्टमार्टम की फाइनल रिपोर्ट आने के बाद ही करेंगे बेटी का अंतिम संस्कार

श्रीनगर गढ़वाल। अंकिता भंडारी के पिता ने कहा कि पोस्टमार्टम की फाइनल रिपोर्ट आने के बाद ही वह बेटी का अंतिम संस्कार करेंगे। उन्होंने वनत्रा...

Breaking News: राज्य के 7 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी

देहरादून। मौसम विभाग ने राज्य के सात जिलों देहरादून, टिहरी, उत्तरकाशी, चमोली, रुद्रप्रयाग, बागेश्वर, पिथौरागढ़ में कहीं-कहीं भारी बारिश की संभावना जताई है। इन...
- Advertisment -

Recent Comments

error: Content is protected !!